Face book me mila ek sex aunty

Click here!

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम संजय है। में चेन्नई का रहने वाला हूँ और मेरी उम्र 24 साल है। फेसबुक पर मुझे एक औरत मिली, जिससे में पहले कभी नहीं मिला था। एक दिन उसने मुझे एक जगह पर बुलाया। तो में लगभग टाईम पर वहाँ पर पहुँच गया और उसका इंतजार करने लगा। तभी 5 मिनट के बाद एक वेल शेप स्लिम बॉडी, उम्र लगभग 35 साल लेडी आई और बोली कि मिस्टर संजय? तो तब मैंने कहा कि जी और हमारी हाए हैल्लो हुई और फिर वो मुझे अपने साथ आने को बोली तो में उसके साथ उनकी कार में बैठ गया, उसकी कार की सारी खिड़कियों पर काला कांच लगा हुआ था।

फिर वो मुझसे बोली कि मिस्टर संजय आप बुरा मत मानना, में अपनी प्राइवसी के लिए आपकी आँखों पर पट्टी बाँध देती हूँ और अपने घर पर जाकर खोल दूंगी। दोस्तों में अपनी क्लाइंट्स को पूरी आज़ादी देता हूँ जैसा की वो चाहे, ताकि वो अपने आपको सुरक्षित समझे। फिर मैंने अपनी आँखें बंद की और उसने मेरी आँखों पर पट्टी बाँध दी और फिर कार स्टार्ट करके चल दी। फिर लगभग 20 मिनट के बाद कार एक जगह पर रुकी और लगभग थोड़ी देर के बाद फिर से स्टार्ट होकर थोड़ी दूर चलकर वापस बंद हुई। फिर वो बोली कि मिस्टर संजय आप थोड़ी देर कार में बैठो, में अभी आई। दोस्तों मुझे बिल्कुल नहीं मालूम था कि में कहाँ पर हूँ? किस इलाके में हूँ?

sexy aunty ki chudai

फिर लगभग 5 मिनट के बाद वो वापस आई और मेरा हाथ पकड़कर बोली कि मिस्टर संजय आप आराम से मेरे साथ आइए और में उसके साथ धीरे-धीरे चलने लगा। अब मुझे किसी रूम में अंदर जाने का एहसास हो रहा था। फिर उसके बाद वो बोली कि मिस्टर संजय में अब आपकी आँखों से पट्टी हटा रही हूँ और फिर मैंने धीरे से अपनी आँखें खोली तो मैंने देखा कि वो किसी का बेडरूम लग रहा था, जो कि साईज में भी काफ़ी बड़ा था और एकदम मस्त लग रहा था। फिर वो मुस्कराते हुए बोली कि मिस्टर संजय ये मेरा बेडरूम है, आप आराम से बैठ जाइए और आगे कुछ मत पूछिएगा कि आप कहाँ पर है? किस एरिया में है? में कौन हूँ? मेरा नाम क्या है? आप सिर्फ़ इतना ही जानिए कि आपको मैंने अपने मज़े के लिए तलाश किया है और इसके लिए आप मुझसे फीस लेंगे।

तब मैंने कहा कि जरूर, में तो सिर्फ़ अपनी फीस से मतलब रखता हूँ, आप कोई भी हो मेरे लिए आप सिर्फ़ मेरी क्लाइंट है और में अपनी क्लाइंट की प्राइवसी का पूरा ख्याल रखता हूँ। फिर उसने टी.वी ऑन कर दिया और एक सेक्सी मूवी लगाकर बोली कि आप मूवी देखिए और में आपके लिए कुछ खाने पीने का बंदोबस्त करती हूँ और फिर वो बाहर चली गयी। अब में आराम से बैठकर सेक्सी मूवी के मज़े ले रहा था। फिर लगभग 10 मिनट के बाद वो वापस आई और उसके हाथ में वाईन की एक बोतल और कुछ ड्राई फ्रूट्स थे और फिर वो मुझसे बोली कि मिस्टर संजय हम लोग थोड़ी सी ड्रिंक कर ले, फिर आप मेरी सेवा में लग जाइएगा और फिर उसने दो पैग बनाए और फिर हम लोग आराम से मूवी देखते हुए ड्रिंक करने लगे। दोस्तों अब हम दोनों चुपचाप आराम से मूवी देख रहे थे और वाईन पी रहे थे। फिर यह सब तब तक चलता रहा जब तक मूवी खत्म नहीं हुई। अब हम दोनों भी काफ़ी गर्म हो चुके थे और मेरा लंड एकदम टाईट हो रहा था, लेकिन वो कुछ बोल नहीं रही थी।

फिर ड्रिंक खत्म होने के बाद में बोला कि मेडम अब मेरे लिए क्या हुक्म है? क्योंकि अब में आपका गुलाम हूँ, मेरे लिए क्या हुक्म है? दोस्तों अब यहाँ से मेरी ड्यूटी चालू हो जाती है। फिर तब वो बोली कि मिस्टर संजय मेरी ड्रेसिंग टेबल के पास कुछ मसाज ऑयल पड़े है, उसको लीजिए और मेरा बदन दुख रहा है मेरी मालिश कर दीजिए। फिर मैंने सर्वेंट के माफिक अपना सिर हिलाया और कुछ ऑयल की शीशी लेकर मेडम से बोला कि आप आराम से बेड पर लेट जाइए और फिर उसके बाद में उसके धीरे-धीरे सारे कपड़े उतारने लगा। फिर मैंने उसके पैर से मसाज़ स्टार्ट कर दी और धीरे-धीरे आराम से उसके नंगे बदन पर मसाज करने लगा था। दोस्तों वो एक स्लिम और सेक्सी लेडी थी, उसके बूब्स ना बहुत ज्यादा बड़े थे और ना ही ज्यादा छोटे थे, एकदम मीडियम थे।

फिर मैंने लगभग 20 मिनट तक मसाज किया और फिर में बोला कि मेडम अब आप पेट के बल लेट जाइए और फिर मैंने उसकी पीठ पर मसाज करनी चालू कर दी। फिर उसके बाद मैंने भी धीरे-धीरे अपने सारे कपड़े उतार दिए और फिर मेडम को अपनी गोदी में उठाया और उसके होंठो पर किस किया और उससे बोला कि मेडम आपका बाथरूम कहाँ पर है? अब आपकी साफ सफाई कर दूँ। तो तब उसने बाथरूम की तरफ ईशारा किया। फिर में उसको बाथरूम में लेकर गया तो मैंने देखा कि उसके बाथरूम में बाथटब था। फिर मैंने उसको उसमें लेटा दिया और पानी स्टार्ट कर दिया और फिर में भी उसके साथ आराम से टब में बैठ गया और उसके बूब्स को चूसना चालू कर दिया था। अब वो अपनी आँखें बंद करके अपने एक हाथ में मेरे लंड को पकड़कर सहलाने लगी थी। फिर में अपने बनाए हुए तरीके से उसकी बॉडी के एक एक पार्ट को चूमता रहा और वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसती रही।

फिर मैंने बाथरूम में उसको आराम से नहलाया और बाथरूम में सेक्स के मज़े लिए। फिर हम लोग फ्रेश होकर बाहर निकले और अपने-अपने कपड़े पहने और फिर साथ में खाना खाया और फिर हम दोनों लोग आराम से सो गये। फिर उसने मुझे उठाया और बोली कि मिस्टर संजय चलिए में आपको छोड़ देती हूँ। फिर जब में उसके घर से निकला तो उसने वापस से मेरी आँखों पर पट्टी बाँधी और फिर उसने जहाँ से मुझे लिफ्ट दी थी, वहाँ पर कार रोकी और फिर उसने मेरी पट्टी खोली और बोली कि मिस्टर संजय आपके साथ काफ़ी मज़ा आया और मुझे जब भी आपकी जरूरत पड़ेगी, तो में आपको बुलाऊंगी और फिर उसने मेरे हाथ में मेरी फीस रखी और मेरे होंठो पर एक हार्ड किस किया और बोली कि फिर मिलेंगे। फिर मैंने कार का दरवाजा खोला और बाहर निकल आया और उसको जाते हुए देखता रहा। दोस्तों मैंने उसके साथ पूरे 6 घंटे बिताए थे, लेकिन ना मैंने उसके बारे में पूछा था और ना उसने मेरे बारे में पूछा था और ना में उसका रियल नाम जान सका था, लेकिन वो जो कोई भी हो है तो मेरी क्लाइंट, जिसके साथ मैंने बहुत मजे किए थे और खूब इन्जॉय किया था।

aunty ke sath contact kare : facebook.com/chudasi aunty

loading...
Updated: September 21, 2017 — 12:25 pm

RSS bhai behen ki sex pic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exclusive bhabhi aur aunty chudai kahani everyday-99Hindi sex story © 2016
error: