meri sexy bua ki chudai

meri sexy bua ki chudai…..

प्रेषक: सुभास ,

हैल्लो दोस्तों,मेरा नाम सुभास है और मई गोवा का रहेने बाला हु. ये मेरी पहली स्टोरी है और में आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी ये स्टोरी पसंद आए पहले में आपको अपने बारे मे बता देता हूँ। दोस्तों मेरा नाम राज है और में 22 साल का हूँ। मेरी हाईट 5.2″ की है और में दिखने में भी बहुत हेंडसम हूँ। दोस्तों मेंरा लंड भी बहुत बड़ा है, जो हर वक़्त चूत ढूंढता रहता है।अब में आपको मेरी बुआजी के बारे में बताता हूँ। में जब भी उसे देखता हूँ मेरा लंड खंभे की तरह खड़ा हो जाता है। मेरी बुआ की उम्र करीब 30 साल की होगी और उसका फिगर 30-28-32 का है और वो दिखने में तो बिपाशा बशु जैसी दिखती है। मेरी सेक्सी बुआ की शादी हो गई और वो मेरे घर के पास मे ही अपने पापा के साथ रहती है और उनकी एक 6 साल की लड़की भी है।

लेकिन बुआ की सबसे बड़ी प्राब्लम है, कि उनके पति बहुत शराब पीते है और जुआ भी खेलते है।बुआ ने उनको कितना ही समझाया फिर भी वो नहीं माने इसलिए बुआ ने उसे अपने पापा के घर से निकाल दिया और उसे कभी भी घर नहीं आने देती है। अब घर में बुआ और बुआ की बेटी और बुआ का भाई ही रहते है और उनका भाई तो ज़्यादातर काम की वजह से बाहर ही रहता है और कभी कभी घर आता है। पहले तो में बुआ को सिर्फ़ बुआ की नज़र से ही देखता था लेकिन मेरी सेक्सी बुआ की एक बहुत ही खराब आदत है पता है क्या? वो कभी भी ब्रा नहीं पहनती और ज़्यादातर लूज़ गाउन ही पहनती है।

दोस्तों अब में बताता हूँ कि कैसे मैने पहली बार मेरी बुआ के बूब्स देखे एक दिन जब में बुआ के घर कुछ लेने गया तो बुआ ने कहा कि पहले तू ये भारी सामान उठाने मे मेरी हैल्प कर दे फिर तुझे सामान देती हूँ। मैने कहा ठीक है अब बुआ मेरे सामने थी और वो भारी सामान का डिब्बा हम दोनो के बीच में था फिर बुआ एक तरफ से डिब्बा उठाने को नीचे झुकी और मैने देखा कि उसने तो ब्रा ही नहीं पहन रखी और उसके मोटे मोटे बूब्स मेरी आँखो में समा रहे थे, ज़ी कर रहा था कि उन्हे नोच लूँ और उसका सारा दूध पी जाऊं उसी समय बुआ ने कहा कि तू ये डिब्बा उठाना क्या देख रहा है?

तभी मैने कहा कुछ नहीं अब जैसे जैसे बुआ डिब्बा एक और पकड़े आगे बढ़ रही थी उसके बूब्स उछल रहे थे। तभी मेरे मन में एक ख्याल आया कि काश में बुआ की ले सकता। फिर उस दिन से में बुआ को पटाने में लग गया था। अब में सारा दिन बुआ के आगे पीछे घूमता रहता एक दिन बुआ की लड़की ने उनसे कुछ इंग्लीश की स्पेलिंग पूछी लेकिन बुआ उनका जवाब नहीं दे पाई, क्योकि वो ज़्यादा पढ़ी लिखी नहीं है। इसलिए उन्होंने मुझे बुलवाया और कहा कि पल्लवी को ये स्पेलिंग सीखा दे, फिर मैने पल्लवी को वो स्पेलिंग सीखा दी।
बुआ ने मुझसे कहा कि अगर तू फ्री हो तो पल्लवी को इंग्लीश सीखाने घर पर आया कर में ये सुनकर बहुत खुश हुआ, क्योकि अब में ज़्यादा टाइम बुआ के साथ गुजार सकता हूँ, फिर मैने सोचा कि अगर वो टाईम रात का हो तो? इस लिए मैने बुआ से कहा कि में पूरा दिन तो फ्री नहीं रह सकता हूँ, अगर आप कहे तो में पल्लवी को रात के 8 से 11 के बीच मे पड़ाने आ जाऊंगा तो बुआ ने कहा ठीक है। उस दिन से में पल्लवी को रात को ही पढाने जाता हूँ और मज़े से पढ़ाई करवाने के बहाने बुआ के बड़े बड़े बूब्स देखता हूँ।

थोड़े ही दिनो में पल्लवी बहुत होशियार हो गयी ये देखकर बुआ बहुत खुश हुई और उसने मुझे प्रोमिस किया कि तुझे कभी भी मेरी ज़रूरत पड़े तो बेझिझक कह देना में तेरी मदद ज़रूर करूँगी। तभी मुझसे रहा नहीं जा रहा था इसलिए मैने बुआ से बात करने की सोच ली, बुआ बहुत ही इमोशनल है ये में जानता था। एक दिन जब बुआ बिल्कुल अकेली थी तो मैने बुआ से कहा कि बुआ क्या आप मेरी मदद करोगे तो बुआ ने कहा कि हाँ क्यों नहीं, तू बोल क्या मदद चाहिए तुझे तभी मैने अपनी झूठी कहानी शुरू कर दी,

फिर मैने कहा कि बुआ में थोड़ा हेल्थी होना चाहता हूँ, आप प्लीज़ मेरी हैल्प कीजिए ना तो बुआ ने कहा कि इसमे में तेरी क्या मदद कर सकती हूँ, तू खाने पीने में ज्यादा ध्यान दे अपने आप हेल्थी हो जाएगा। तभी मैने कहा कि बुआ वो तो में ध्यान देता ही हूँ फिर भी इतना फ़र्क नहीं पड़ता तो बुआ ने कहा में क्या कर सकती हूँ। तभी मैने कहा कि मेरा एक दोस्त है, जो पहले बिल्कुल मेरी ही तरह दिखता था लेकिन अब वो काफ़ी हेल्थी हो गया है, पता है कैसे क्योंकि वो अपने पास की आंटी को हर रोज़ चोदता है। ये उसी ने मुझे बताया था। अब ये सुनकर बुआ गुस्से से लाल हो गयी और मुझे अपने घर से निकलने को कहा लेकिन में नहीं मानने वाला था। मैने कहा प्लीज़ बुआ आप मेरी हैल्प कर दो में ज़िंदगी भर आपकी सेवा करूँगा प्लीज़ बुआ आप जो भी बोलोगी में करूँगा। प्लीज़ बुआ प्लीज़ बुआ लेकिन बुआ पर कोई असर नहीं पड रहा था।

तभी मैने कहा कि में आपकी पल्लवी की पढ़ाई की पूरी ज़िम्मेदारी लूँगा और उसे एक होशियार लड़की बना दूंगा बुआ प्लीज मान जाओ ना, ये सुनकर बुआ ने कहा कि लेकिन हम ये नहीं कर सकते कोई देख लेगा तो? फिर मैने कहा कि बुआ अभी नहीं करना है में जब रात को पल्लवी को पढ़ाने आऊंगा तब हम करेंगे। अब किसी तरह से मैने बुआ को मना लिया। उस रात मैने पूरा प्लान करके रखा था। बुआ का घर मेरे घर के बगल में ही है। इसलिए मैने उस रात छत पर सोने का प्लान बना लिया था कि में बुआ के घर आसानी से जा सकूँ और मुझे रात को अगर देर हो तो कोई मुझे ढूढ़ने भी ना आए क्योंकि मैने सबको बता दिया था, की में आज ऊपर सोने जा रहा हूँ।

तभी उस रात पल्लवी को 10 बजे तक पढ़ाने के बाद मैने उसे दुकान से अपने लिए चाकलेट लाने भेज दिया और तभी बुआ से कह दिया कि में अभी छत पर सोने जा रहा हूँ। जब पल्लवी सो जाए तो आप मुझे एक मिस्ड कॉल कर देना ये सुनकर बुआ ने कहा हाँ और पहली बार मैने अपनी बुआ को एक लंबा लिप किस दिया। फिर थोड़ी देर बाद पल्लवी आ गयी और में ऊपर सोने चला गया था।

रात के करीब 12 बजे बुआ का मिस्ड कॉल आया में समझ गया कि पल्लवी सो गयी होगी और ज़ल्दी से में छत पर से नीचे आया और ऊपर बुआ के कमरे में चला गया कमरे में जाते ही मैने बुआ को अपनी बाँहों में भर लिया अब भगवान से कहने लगा कि बुआ भी काश मुझे किस करे फिर उसकी दोनो बूब्स मेरे शरीर पर खेल रहे थे और मेरा लंड खड़ा हो गया और बार बार बुआ की चूत से टकरा रहा था। फिर मैने बुआ से कहा कि मुझे आपके बूब्स चूसने है, तभी उसने कहा कि तुम्हारा जितना जी चूसना चाहे चूस लो। तभी ये सुनकर मैने बुआ की गाउन उतार दी। अब बुआ ने मेरी शर्ट उतार दी मेरी बुआ ब्रा तो पहनती ही नहीं थी इसलिए अब मुझे उसके बूब्स दिखाई दिए तो मैने बुआ को उठाकर बेड पर सुलाया और खुद उनके ऊपर चढ़ गया और पागलो की तरह उनके बूब्स को चूसने लगा। अब बुआ सिसकियां ले रही थी और उसे बहुत मज़ा आ रहा था। थोड़ी देर उसके बूब्स चूसने के बाद मैने अपना लंड उनके मुहं में डाल दिया।

फिर बुआ लंड को चूसने लगी करीब 15 मिनट के बाद मैने अपना पानी बुआ के मुहं में छोड़ दिया, तो बुआ वो सारा पानी पी गयी। फिर मैने बुआ की पेंटी निकाल दी तो अब मुझे उनकी शेविंग की हुई चूत देखने को मिली पहले तो में उसमें अपनी उंगली डालकर खेलने लगा। बुआ सिसकियां अह्ह्ह्ह अह्ह्ह कर रही थी। करीब 15-20 मिनट के बाद बुआ ने भी अपना पानी छोड़ दिया फिर हम दोनो ने थोड़ी देर आराम किया फिर मैने बुआ से कहा कि बुआ अब मुझे आपको चोदना है, तभी बुआ ने अपने दोनो पैर फैला दिए और कहा कि चोद लो आज मुझे उनका मिलते ही में तो कुत्ता बन गया और बुआ के ऊपर चढ़ गया।

फिर मैने अपना लंड बुआ की चूत में डाल दिया और फिर एक ही झटके में पूरा चूत के अंदर चला गया और फिर में बुआ को धीरे धीरे से चोदने लगा। फिर बुआ भी अपने कूल्हे उछाल उछाल कर मेरा साथ देने लगी। थोड़ी देर धीरे चोदने के बाद अब मैने अपनी स्पीड बढ़ा दी और में बुआ को कुतिया की तरह बुरी तरह से चोदने लगा। करीब 15 मिनट के बाद में झड़ने लगा, तभी मैने बुआ से कहा कि बुआ मेरा अब निकलने वाला है क्या अंदर ही छोड़ दूँ? तभी बुआ ने कहा कि नहीं ऐसा मत करना फिर मैने कहा तो फिर कहाँ छोडू? तभी बुआ ने अपना मुहं खोल दिया और मैने अपना लंड उनके मुहं में डाल दिया और अपना सारा वीर्य उनके मुहं में छोड़ दिया। अब में बहुत खुश था कि मेरी पहली चुदाई बुआ के साथ बहुत अच्छी रही। उस दिन के बाद जब भी टाईम मिलता में और मेरी सेक्सी बुआ मज़े करते थे ।

धन्यबाद ……

Join with 10,000 readers everyday and read new exciting story

Exclusive bhabhi aur aunty chudai kahani everyday-99Hindi sex story © 2016
error: